DM Ka Full Form | जिला अधिकारी कैसे बने

नमस्कार दोस्तों कैसे है आप सब उम्मीद करता हु की सब ठीक होंगे आपने गूगल पर सर्च किआ है Dm Ka Full Form तो आपको इससे जुडी सारी जानकारी हिंदी में उपलब्ध होगी बस आपको ये लेख पूरा पढना है तो चलिए चलते है Dm Ka Full Form क्या है और DM कैसे बनते है आइये जाने इन सभी टॉपिक के बारे में विस्तार से Dm Ka Full Form in hindi

DM क्या है | Dm Ka Full Form in hindi

दोस्तों Dm Ka Full Form ( District Magistrate ) होता हैं जो हिंदी में जिला अधिकारी ( जिला मजिस्ट्रेट ) कहलाता है.

आपको बतादे की District Magistrate जिले का मुख्य अधिकारी होता है जो सरकार द्वारा न्युक्त किआ जाता है एक जिला अधिकारी को सरकार की तरफ से प्रसाशनिक और राजस्व अधिकार मिले होते है जिसके कारण जिले का सर्वोच्च प्रशासनिक अधिकारी कहलाता है. District Magistrate को कई बार हम डिप्टी कमिश्नर या कलेक्टर भी कहकर बोलते है.

दोस्तों आपको तो पता ही होगा की District Magistrate बनने के लिए कितनी मेहनत करनी होती है किसी भी स्टूडेंट को और हम सब ये भी जानते है की भारत की सबसे कठिन परीक्षायो में जिला अधिकारी की परीक्षा शामिल है.

जिला अधिकारी का मासिक वेतन शुरुवाती समय में 55 हजार होती है जो अंतिम तक 2.5 लाख तक हो जाती है.

Dm बनने की तैयारी | DM kaise bane

अगर आपने अपने मन में और पूरी तरह से सोच विचार कर लिया है तो आप एक कदम संघ लोक सेवा आयोग UPSC (UNION PUBLIC SERVICE COMMISSION) की तैयारी करने के लिए बढ़ा चुके है दोस्तों आपको बता दे की भारतीय प्रशासनिक सेवा सरकार की जॉब्स में सबसे बड़ी मुख्य नौकरी है ये सबसे कठिन भी है इसकी परीक्षा देने के लिए आपको संघ लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित परीक्षा फॉर्म भरना होगा और बाद में इसे उत्रीण करना होगा जिसके बाद आपको भारतीय प्रशासनिक सेवा के लिए चुन लिया जाएगा.

एक जिला अधिकारी बनने के लिए आपको भारतीय प्रशासनिक सेवा (IAS) की तैयारी करनी होगी. आपको बतादे की एक IAS की परीक्षा देने के लिए स्टूडेंट की संख्या लगभग 8 लाख से भी अधिक होती है जिंसमे से सिर्फ 500 तक ही IAS ऑफिसर बन पाते है ये बहुत कम आकड़ा है लेकिन बहुत से लोगो का IAS ऑफिसर बनने का सपना होता है जिन्हें कड़ी मेहनत करके वे उस मुकाम पर पहुच जाते है.

अगर आपने अंतिम फैसला IAS ऑफिसर बनने का कर लिया है तो आपको बतादे की आपका शेक्षणिक योग्यता किसी भी यूनिवर्सिटी से स्नातक किया हो आपकी उम्र 18 साल से अधिक हो और भारत के निवासी होना जरुरी है.

दोस्तों आपको जिला अधिकारी बनने के लिए तीन चरण से गुजरना होगा

  • Preliminary Exam (प्रारम्भिक परीक्षा) 
  • Main Exam (मेन्स परीक्षा)
  • Interview (साक्षात्कार)

Preliminary Exam (प्रारम्भिक परीक्षा) 

दोस्तों आपको बतादे की प्रारम्भिक परीक्षा देने के लिए आपको दो पेपर दिए जायंगे जिसमे सारे सवाल ऑब्जेक्टिव होंगे. बताना चाहेंगे की इन दोनों पेपर्स के मार्क्स आपकी मुख्य अंक तालिका में नही जोड़ा जायेगा. आपको बतादे की इस परीक्षा को उत्तीर्ण करने पर ही आप आगे की सभी परीक्षाओ को दे सकेंगे मतलब आप समझ जाए की ये परीक्षा भी बहुत जरुरी है.

Main Exam (मेन्स परीक्षा)

प्रारम्भिक परीक्षा देने के बाद आपको मेन्स की परीक्षा देनी होगी जिसमे कुल सात पेपर होंगे जिसमे से चार सामान्य ज्ञान से सम्बन्धित होंगे और दो पेपर ऑप्शनल सब्जेक्ट के होंगे तथा एक essay से सम्बंधित होने वाले है. ये सभी पेपर्स के अंक आपकी अंतिम रैंकिंग के लिए जोड़े जायंगे.

Interview (साक्षात्कार)

पिछली सभी परीक्षाओ को उत्तीर्ण करने के बाद अब आपको साक्षात्कार यानी Interview के लिए बुलाया जायेगा इसमें आपके व्यवहार, ड्रेसिंग सेन्स और बातचीत को परखा जायेगा उसके उपरांत ही आपको अंक दिए जायेंगे सभी अंको को अंतिम रैंकिंग शीट में जोड़ा जायेगा.

आपको बतादे की उपर दिए गये तीनो परीक्षाओ में पास होना बहुत जरूरी है उसके बाद ही आप डीएम बन सकते है

अगर आपको डीएम के लिए चुन लिया जाता है तो आपको department of personal training के लिए लाल बहादुर शास्त्री नेशनल अकादमी ऑफ़ एडमिनिस्ट्रेशन ( Lal Bahadur Shastri National Academy of Administration) परीक्षण के लिए मसूरी भेज दिया जायेगा जहा आपको एक से दो सालो तक परिक्षण लेना होता है. परीक्षण पूर्ण होने के बाद आपको पोस्टिंग के लिए भेज दिया जाता है मतलब आप अब DM बनने की लिए तैयार है.

DM के कार्य

जिला मजिस्ट्रेट जिले का मुख्य अधिकारी होता है उसके कंधे पर बहुत सी बड़ी जिम्मेदारिया होती है

  • जिले में कानूनी व्यवस्था को बनाकर रखना
  • कर्फ्यू और 144 धारा को लगाना
  • शहर में होने वाली रैलियों को अनुमति देना
  • शहर में होने वाले दंगे अपराधो की रिपोर्ट सरकार तक पहुचाना
  • राजकोष और उपकोषागार की देख रेख और निगरानी रखना
  • जमीन का मुल्यांकन करना
  • शहरी और ग्रामीण आंकड़ो को इकट्ठा करना
  • टैक्स से सम्बंधित दस्तावेजो के बारी में जानकारी रखना
  • जिले के सभी लॉक-अप और जेल के प्रशासन की निगरानी रखना

DM ka full form | अलग से फुल फॉर्म

  • Direct Message
  • Diabetes Mellitus
  • Delta Modulation
  • Digital Media
  • Dark Matter
  • Dipole Moment
  • Data Mining
  • Directory Management

Dm Ka Full Form in hindi

निष्कर्ष

दोस्तों कैसा लगा लेख Dm Ka Full Form in hindi और उससे जुडी सारी जानकारिया आपने आज डीएम क्या है डीएम कैसे बने क्या क्या तैयारिया करनी होती है, डीएम कोन होता है और भी बहुत सी बातो को जाना वो भी सरल हिंदी भाषा के अन्दर मै उम्मीद करता हु की ये लेख Dm Ka Full Form in hindi आपको पसंद आया होगा ||धन्यवाद ||

Leave a Comment